Tradeindia B2B Marketplace क्या है ? ट्रेड इंडिया का इतिहास

Tradeindia क्या है ? सम्पूर्ण जानकारी|

नमश्कार दोस्तों आज हम आपको इसे ऑनलाइन पोर्टल के बारे मैं बताने जा रहे है जिससे आप अपना B2B Business बड़े आराम से शुरू कर सकते है वो भी काफी कम बजट मैं| जी हाँ दोस्तों आज हम बात करेंगे Trade India के बारे जो की विश्व भर मैं छोटे छोटे SME OR SMB को B2B व्यापार करने की सुविधा देता है और आपका व्यापार बढ़ाने मैं आपकी मदद करता है |

 Tradeindia का बिज़नेस मोडल पूरा इंडिया मार्ट जेसा ही है | तो आइये जानते है की ट्रेड इंडिया के बारे मैं आज के इस लेख मैं हम निम्न बातो को जानेंगे की कोशिश करेंगे की Tradeindia.com kya hai? Tradeindia शुरुआत कब हुई ?Tradeindia की हिस्ट्री क्या है? और भी अधिक बातो को हम इस लेख मैं कवर करेंगे|

Trade india Kya hai in Hindi
Largest B2B Marketplace

ट्रेड इंडिया क्या है ? यह कोन सी सर्विस देता है ?

Tradeindia.com एक Online B2B Business Directory है | जिस पर रजिस्ट्रेशन करके आप ऑनलाइन B2B ग्राहकों के साथ डील कर सकते है | ट्रेड इंडिया के साथ जुड़कर आप भारत के काफी सारे B2B खरीदारों के साथ जुड़ सकते है और अपना B2B Business आसानी से बढ़ा सकते है |

Trade india का मुख्यालय भारत की राजधानी दिल्ली मैं स्थित है | जानीमानी B2B कम्पनी इंडिया मार्ट भी इसी को देख कर बनाया गया था | यह पोर्टल अपनी सर्विस और प्रोडक्ट के लिय जाना जाता है अगर कोई अपना प्रोडक्ट इम्पोर्ट एक्सपोर्ट करवाना चाहता है तो ट्रेड इंडिया यह काम बड़े ही आसानी से करवा देता है |

लेकिन अब Trade india Clint service Sector मैं आ चूका है और यह अपने Clint को Digital Marketing & Ecommerce की सुविधा देता है | ये सिर्फ Buyer and Seller को सलाह ही नही देता है बल्कि ये Seller अपना व्यापार  करने के लिय आपको financially Support भी करता है | आपको लोन भी दिलवाते है और साथ के साथ आपके सामान की डिलीवरी के लिए Logistic Support भी देते है | ट्रेड इंडिया पहली कंपनी है जो SME को E-Marketplace की सुविधा देती है जिसके साथ वे सेलर को Domain/SSL/Adword/SMO/SEO/FB Promotion जेसी सुविधा दे रही है |

ट्रेड इंडिया का इतिहास क्या है ? बिक्की खोसला का संघर्ष

Trade india ki History की बात करी जाये तो इसकी स्थापना बिक्की खोसला द्वारा सन 1996 मैं दिल्ली मैं की गयी थी| जिसका काम था B2B की कम्पनी को ग्राहक देना और इम्पोर्ट एक्सपोर्ट करवाना इनके लिए बहुत आसान काम है |

Tradeindia के CEO Bikki Khosla 1990 मैं USA का अपना बिज़नेस छोड़ भारत आये और उन्होंने देखा की भारत मैं छोटे छोटे SME को अपना ग्राहक ढूंढने के लिए काफी सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था | जिससे देख कर उनके मन एक बिज़नेस प्लान आया और बिक्की खोसला ने भारत infocom network limited को शुरू किया | इसी के साथ उन्होंने Import export की सेवा शुरू करने की लिय Exporters Yellow Pages को पर्काशित किया| infocom network limited को खोलने के लिए काफी मेहनतकी गये थिस अधिक पैसा ना होने की वजह से इन्होने एक छोटा सा कमरा किराये पर लेकर अपना Business शुरू किया |

उस समय संचार का माध्यम अच्छा ना होने की वजह से उन्हें Directories को तेयार करने मैं काफी मुश्किलों का सामना करना पढ़ा था | लेकिन वो कहते है ना एक बार मन जो ठान लो उसके लिए आखिरी साँस तक लड़ो तो यही हुआ अंत मैं कुछ सालो बाद Exporters Yellow Page काफी अच्छा चला जिसके बाद इन्हें उन छोटे छोटे SME- SMB के लिए भी एक प्लेटफार्म तेयार करने की सूझी जिसकी वजह से उन्होंने tradeindia.com का गठन किया |

Trade India import export master

Tradeindia के आने से भारत के SME का काम आसान तो हुआ लेकिन इसके पीछे भी कड़ा संघर्ष था | बिक्की खोसला को एक टीम की जरुरत थी जिसे इन्होने बढ़ी ही सोच समझ कर चुना | ट्रेड इंडिया को खोलने के बाद इसपर इन्होने एक एसी Directory बनाई जिस पर B2B खरीदार और सेलर दोनों अपना काम निकाल सके|

ग्राहक को अच्छे रेट पर सामान मिलता था और सेलर को सही समय पर ग्राहक मिलता था|  इस मोडल के द्वारा उन्होंने Tradeindia.com को चलाया और यह काफी तेजी से आगे बढ़ता गया | 2002 का साल इसके लिए Game changer साबित हुआ क्योकि उस समय Internet एक हद तक अपने आप मैं धीरे धीरे परचलित हो रहा था|

 2011 मैं Smartphone आने के बाद smartphone का चलन   बढ़ने लगा जिसके बाद Broadband and internet Data भी काफी हद तक सस्ता हो गया जिसकी वजह से लोग इन्टरनेट पर व्यापार बारे सर्च करने लग गये थे | इसको देख कर बिक्की खोसला ने Tradeindia.com मैं काफी सारे बदलाव करके उसको और भी अच्छा बनाया जिसके बाद उनकी वेबसाइट पर काफी संख्या मैं ट्रैफिक आने लगा और ट्रेड इंडिया काफी चर्चित प्लेटफार्म बन गया |

अपनी बढती प्रसिधी देख 2015 के आते आते उन्होंने अपना Android Mobile App launch कर दिया था जिसके बाद से इसके यूजर और बढ़ गये |“वो कहते है ना की सिर्फ सपने देखने से कुछ बड़ा नही मिलता बड़ा पाने के काफी कठिन परिश्रम करना पड़ता है “

ट्रेड इंडिया का टोटल Net worth कितना है ?

उपलब्धि की बात करे तो आज tradeindia.com के पास छोटे कमरे से उठ कर अपने आप को साबित करना एक बहुत ही बढ़ी बात है  | आज बिक्की खोसला एक जानी मानी हस्केती बन चुके है | उके पास खुद के 43 शहरों मैं छोटे बड़े कार्यालय है जिसमे लगभग 2000 कर्मचारी काम कर रहे है | और अब तक करोडो खरीदार यहाँ से B2B खरीदारी कर चुके है और लाखो सेलर अभी ट्रेड इंडिया पर व्यापार कर रहे है | आज Tradeindia.com का सालाना Turnover $18Million Doller है |

ट्रेड इंडिया के Competitor kon hai ?

Tradeindia.com के निम्न Competitor है :-

निष्कर्ष: तो दोस्तों जैसा की हमने उपर देखा की किसी भी काम को पूरा करने के लिए हमें उसे लगातार करना होता है | Tradeindia.com की कहानी काफी प्रेरणा दायक है| भारत मैं इसका मुख्य प्रतिद्वंदी Indiamart.com है| तो दोस्तों इस लेख मैं हमने ट्रेड इंडिया के बारे मैं पूरी जानकारी देने की कोशिश की है|

अगले लेख मैं हम जानेंगे की ट्रेड इंडिया पर हम व्यापार केसे कर सकते है और इसके लिए किन किन दस्तावेजो की आवश्कता होती है | तो आप इस लेख को अपने दोस्तों के साथ शेयर करते रहे और हमारा मोटिवेशन इसे ही बढ़ाते रहे |

 

Leave a Reply